मौखिक रुप से होनी चाहिये जलाशयों की जानकारी-कलेक्टर श्री गढ़पाले

जल संसाधन विभाग की हुई समीक्षा
कटनी (23 जनवरी)- जिले में जितने भी जलाशय हैं, उनमें क्या कार्य होने हैं। नहरों में क्या समस्या है ? किस जगह पर खराबी है ? कहां साफ-सफाई करानी है ? इसकी मौखिक जानकारी आपको होना चाहिये। ये निर्देश जल संसाधन विभाग की समीक्षा के दौरान कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने विभाग के सभी संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होने दो-टूक रुप से कहा कि आप लोग कार्यालय का मोह छोडें, फील्ड पर जायें। साथ ही जिन जलाशयों व नहरों में जो कार्य होना है, उनका व्यवहारिक प्रस्ताव बनाकर आगामी कार्यवाही के लिये भेजें।
      बैठक में कलेक्टर श्री गढ़पाले ने कहा कि डब्ल्यूआरडी में अब मनरेगा से भी आप कार्य करा सकते हैं। इसका परिपत्र आया है। इसलिये इसका लाभ उठायें। नहरों की मरम्मत और जो भी प्राथमिक तौर पर कार्य कराने हैं, अभी से उनका टीएस और एएस करवा लें। इसके साथ ही अपना कैलेंडर भी बना लें। ताकि जब नहरों की साफ-सफाई व मरम्मत का कार्य चले, तब आप लोग भी स्पॉट पर मौजूद रहें। श्री गढ़पाले ने कहा कि आप लोग विभागीय कार्यों के प्रस्ताव और संस्था के कार्यों का प्रस्ताव अलग-अलग बनायें। विभागीय स्वीकृति प्राप्त होने के बाद विभागीय कार्य प्रारंभ करें।

      जल संसाधन विभाग की बैठक में कलेक्टर ने सभी उपस्थित अधिकारियों को जलाशयों का पानी छोड़ने के पूर्व संस्थाओं की बैठक लेने और किसानों को सूचना देने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि बिना संस्थाओं की बैठक और किसानों को सूचना के पानी छोड़ा जाता है और उससे नुकसान होता है, तो जिम्मेदारी आपकी होगी। यदि कोई व्यक्ति एैसा कार्य करता है, तो उसके खिलाफ एफआईआर करायें। 


from Blogger http://dprokatni.blogspot.com/2017/01/blog-post_85.html
via IFTTT
Share on Google Plus

About Abhishek Mishra

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें