जनसुनवाई में 180 आवेदकों ने सुनाई अपनी व्यथा, कलेक्टर ने सभी संबंधित अधिकारियों को दिये स्पॉट पर ही निराकरण के निर्देश

कटनी (14 फरवरी)- जनसुनवाई में मंगलवार को 180 प्रकरणों की सुनवाई कलेक्टर विशेष गढ़पाले द्वारा की गई। सुनवाई के दौरान कलेक्टर ने उपस्थित विभाग प्रमुखों को स्पष्ट रुप से निर्देशित किया कि वे प्रत्येक सप्ताह जनसुनवाई के प्रकरणों के निराकरण एवं लंबित रहने की जानकारी से उन्हें हर हाल में अवगत करायें। इन प्रकरणों का निराकरण त्वरित रुप से नियमानुसार किया जाये। किसी भी प्रकरण को अनावश्यक लंबित रखे जाने पर संबंधित के विरुद्व कार्यवाही की जायेगी।
            जनसुनवाई में कटनी के भट्ट मोहल्ला निवासी कैलाश चावला पिता भागचन्द्र चावला ने गंभीर हृदय रोग के इलाज के लिये पुटपर्ती जाने के लिये सहयोग हेतु आवेदन दिया। जिस पर आवेदन का परीक्षण करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने दिये। उन्होने परीक्षण उपरांत उचित पाये जाने पर रेड क्रॉस से 5 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दिये जाने को कहा।
            वहीं महंगवा निवासी कन्छेदी लाल ने राजस्व निरीक्षक द्वारा प्रतिवेदन नहीं देने की शिकायत जनसुनवाई में कलेक्टर से की। जिस पर तुरंत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से श्री गढ़पाले ने नायब तहसीलदार पानउमरिया को आरआई का प्रतिवेदन शीघ्र मंगाने और इन्हें उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि प्रतिवेदन का भौतिक सत्यापन आप अपने स्तर पर करायें। यदि जनसुनवाई में शिकायत करने के कारण द्वेष वश आरआई द्वारा गलत रिपोर्ट प्रस्तुत की जाती है, तो उस पर कार्यवाही भी करें। वहीं दूसरे प्रकरण में नायब तहसीलदार न्यायालय पानउमरिया द्वारा जारी आदेश जिसमें कारीपाथर निवासी रमेश काछी के पक्ष में निर्णय होने के बाद भी अब तक पूर्ण न्याय नहीं मिला है। इस पर नायब तहसीलदार को न्यायालय द्वारा जारी आदेश का सख्ती से पालन कराने के निर्देश भी जनसुनवाई में कलेक्टर ने दिये।
            जनसुनवाई में गिरिजा बाई यादव पति स्वर्गीय रमेश यादव द्वारा आवेदन देते हुये बताया गया कि उनके पति की मृत्यु कृषि कार्य करते हुये बैल के मारने से हुई थी। लेकिन अब तक किसी भी प्रकार की आर्थिक सहायता परिवार को नहीं मिली है। जिसे संजीदगी से लेते हुये कलेक्टर ने तहसीलदार रीठी को पटवारी भेजकर जांच रिपोर्ट मंगाने और सचिव से कृषक कल्याण के तहत आर्थिक सहायता का फॉर्म भरवाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि यदि यह परिवार बीपीएल सूची में है, तो राष्ट्रीय परिवार सहायता का प्रकरण इनका तैयार कर आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध करायें।
            मंगलवार को जनसुनवाई में सर्वाधिक 29 प्रकरण एसडीएम कटनी के रहे। 18 प्रकरणों में जिला पंचायत से संबंधित शिकायतें व समस्यायें आईं। जिनमें इंदिरा आवास, प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने की शिकायतें प्रमुख रहीं। एमपीईबी, तहसीलदार रीठी, तहसीलदार कटनी से संबंधित 8-8 शिकायतें, जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, कृषि विभाग एवं जनपद पंचायत रीठी से संबंधित 6-6 शिकायतें सामने आईं। कृषि विभाग से संबंधित शिकायतों में ऋणी कृषकों को बीमा राशि का भुगतान ना किये जाने, अनुदान राशि प्राप्त ना होने, ग्राम खजुरा के कृषकों को बीमा राशि का भुगतान प्राप्त ना होने सहित अन्य शिकायतें प्रमुख रहीं। जिसे कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने गंभीरता से लेते हुये शीघ्र निराकृत करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये।

            उपसंचालक पंचायत एवं सामाजिक न्याय, एसडीएम बहोरीबंद, कलेक्ट्रेट सामान्य शाखा से संबंधित 4-4 शिकायतें, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, एसडीएम विजयराघवगढ़, नगर निगम, लीड बैंक, जनपद पंचायत बड़वारा, तहसीलदार बहोरीबंद, तहसीलदार विजयराघवगढ़, जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा, नायब तहसीलदार पानउमरिया से संबंधित 3-3 शिकायतें आई। शिक्षा विभाग एवं डीपीसी से संबंधित 9 शिकायतें, पीडब्ल्यूडी, सिविल सर्जन, एसडीएम ढीमरखेड़ा, तहसीलदार बरही, नायब तहसीलदार मुड़वारा, कार्यालय अधीक्षक कलेक्ट्रेट, रीडर टू कलेक्टर एवं जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी एवं सिविल न्यायालय से संबंधित 2-2 शिकायतें प्राप्त हुईं। भू-अर्जन, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक, नगर परिषद बरही, नायब तहसीलदार बिलहरी, नायब तहसीलदार बड़वारा, नायब तहसीलदार ढीमरखेड़ा, नायब तहसीलदार पहाड़ी, पीएचई, जिला पंजीयक, जनपद पंचायत विजयराघगढ़, खाद्य से संबंधित 1-1 शिकायतें सामने आईं। 


from Blogger http://dprokatni.blogspot.com/2017/02/180.html
via IFTTT
Share on Google Plus

About Abhishek Mishra

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें