नवजात को मृत बताने वाले प्रकरण पर मजिस्ट्रेटियल जॉंच के कलेक्टर ने दिये आदेश, निरीक्षण में पाया जिन विभागों का खराब परफॉर्मेंस, उनके विभाग प्रमुखों को थमाया शोकाज

कटनी (6 फरवरी)- काम में मक्कारी अब बर्दाश्त नहीं की जायेगी। जब मैं सभी विभागों का कार्य करने के साथ मॉनीटरिंग कर सकता हूँ तो क्या अपने स्वयं के विभाग की मॉनीटरिंग करने में आप लोग असमर्थ है या आप लोगों के बस का नहीं है। लेकिन अब मैं निचले अमले के साथ ही विभाग प्रमुखों को भी नहीं छोड़ूँगा। जिस विभाग का काम जमीनी स्तर पर कमजोर दिखा। कार्य में कोताही नजर आई और अधिनस्थ अधिकारियों व कर्मचारियों की कार्यप्रणाली ढुल-मुल, तो अब विभाग प्रमुख पे कार्यवाही होगी।
      साफ-साफ लहजे में दो-टूक यह निर्देश कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने समय-सीमा की बैठक में सभी विभाग प्रमुखों को दिये। बैठक में ही संबंधित शाखा के लिपिक को बुलाकर आज ही की स्थिति में स्वयं के द्वारा किये गये दौरों में जिन विभागों के कार्यों में लापरवाही और खामियां उजागर हुईं हैं, उनके विभाग प्रमुखों को शोकाज नोटिस जारी कराने के लिये निर्देश दिये।
      अपना ध्येय स्पष्ट करते हुये कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों के पास बहुत ही कम समय है। अपने विभागों को धरातलीय स्तर पर पटरी में लायें। फील्ड पर जायें, मॉनीटरिंग करें, कसावट लायें, काम ना करने वालों पर कार्यवाही करें। लेकिन हर हाल में फील्ड की व्यवस्थायें अब दुरुस्त होनी चाहिये। नहीं तो अब कार्यवाही की रडार पर विभाग प्रमुख होंगे। सुधार ना आने की स्थिति में आपके विभागों और संभागायुक्त को आरोप पत्र भेजा जायेगा।
नवजात को मृत बताने वाले प्रकरण पर मजिस्ट्रेटियल जॉंच के कलेक्टर ने दिये आदेश
      जिला चिकित्सालय में नवजात को मृत बताने के बाद निजी नर्सिंग होम में सफल प्रसव होने के प्रकरण को कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने संजीदगी के साथ गंभीरता से लिया है। सोमवार को टीएल बैठक में कलेक्टर ने इस विषय पर सिविल सर्जन से जानकारी चाही। इसकी संक्षिप्त जानकारी सिविल सर्जन द्वारा दी गई। मामले की गंभीरता को समझते हुये कलेक्टर श्री गढ़पाले ने इस सम्पूर्ण प्रकरण की मजिस्ट्रेटियल जांच कराने के निर्देश दिये। उन्होने एसडीएम कटनी को इस सम्पूर्ण प्रकरण की जांच के लिये प्रभारी अधिकारी बनाया।
      गौरतलब है कि 27 जनवरी को यह मामला प्रकाश में आया था। जिसमें पन्ना जिले के मोहदरा निवासी आस्था पति आलोक जैन को 27 जनवरी को प्रसव पीड़ा के बाद जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। लेकिन वहां पर डॉक्टर द्वारा बच्चे की पल्स ना चलने की बात कहते हुये मृत घोषित करने की बात सामने आई थी। लेकिन 28 जनवरी को निजी चिकित्सालय में बच्चे का जन्म हुआ।
ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर सख्ती से लगायें प्रतिबंध
      समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने प्राथमिकता पर ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर लगाये गये प्रतिबंधात्मक आदेश का सख्ती से पालन कराने के निर्देश समस्त एसडीएम को दिये। उन्होने कहा कि डीजे वालों की बैठक लें। बिना अनुमति डीजे का संचालन कराने पर एफआईआर करायें।
सीईओ जनपदों और कार्यपालन यंत्रियों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के दिये निर्देश
            रिजेक्टेड एफटीओ की जानकारी संग्रहित ना करते हुये डाटा कलेक्ट कर भुगतान के लिये नया एफटीओ नहीं लगाने वाले सीईओ जनपदों की भी टीएल बैठक में कलेक्टर ने जमकर क्लास ली। उन्होने कोषालय अधिकारी को अब तक रिजेक्टेड एफटीओ की जानकारी कलेक्ट कर नया एफटीओ नहीं लगाने वाले सीईओ जनपदों की जानकारी मुहैया कराने के निर्देश दिये। साथ ही एसीईओ जिला पंचायत को एैसे सीईओ जनपदों के विरुद्व सख्त अनुशासनात्मक कार्यवाही के आशय का शोकाज नोटिस जारी करने के लिये निर्देशित किया।
            वहीं खनिज प्रतिष्ठान मद का एक्शन प्लान ना देने वाले कार्यपालन यंत्रियों पर भी कलेक्टर जमकर बरसे। उन्होने ओआईसी को कहा कि एैसे सभी कार्यपालन यंत्रियों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने की फाईल मेरे समक्ष पुटअप करें।
जनसुनवाई के प्रकरणों का करें निराकरण
            टीएल बैठक में लंबित जनसुनवाई के प्रकरणों के त्वरित व यथोचित निराकरण के निर्देश भी कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने सभी संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होने कहा कि जनसुनवाई के आवेदन मेरी प्राथमिकता पर हैं। मैने आपको जो भी निर्देश दिये हैं, उन आवेदनों का निराकरण शीघ्र करें। अन्यथा लेट-लतीफी आप पर भी भारी पड़ सकती है। आप पर भी कार्यवाही हो सकती है।
अच्छी हुई बारिश, तो हरियाली अमावस्या पर सम्पूर्ण जिले में एक साथ होगा पौधा रोपण
            ग्रामीण विकास विभाग के अमले को भी कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने वृहद स्तर पर पौधा रोपण के लिये अभी से तैयारियां प्रारंभ करने के निर्देश दिये। उन्होने आदेश देते हुये कहा कि पौधा रोपण के लिये सभी संबंधित टीएस और एएस आगामी एक-दो दिनों में जारी हो जायें। पौधों की डिमाण्ड सभी सीईओ जनपद जिला पंचायत भेज दें। यदि अच्छी बारिश हुई, तो 23 जुलाई को हरियाली अमावस्या पर सम्पूर्ण जिले में एक साथ जनसहभागिता के साथ में पौधा रोपण का कार्य किया जायेगा। जिसकी पूर्व तैयारियां सभी संबंधित अधिकारी सुनिश्चित कर लें।
यह भी दिये निर्देश

            समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने सभी सीईओ जनपदों और सहायक यंत्रियों को टूटे-फूटे शौचालयों का टीएस और एएस जारी कराने के निर्देश दिये। वहीं डेथ रिव्यू की रिपोर्ट सतत् रुप से भेजने के लिये सीएमएचओ को निर्देशित किया। बैठक में कलेक्टर ने सभी विभाग प्रमुखों को अपने अधिनस्थ अधिकारियों का पंजीयन अनिवार्य रुप से मिल-बांचें मध्यप्रदेश अभियान के तहत कराने के निर्देश दिये। उन्होने सभी एसडीएम को चिटफंड कंपनियों की जानकारी संस्थागत वित्त में उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिये। 


from Blogger http://dprokatni.blogspot.com/2017/02/blog-post_6.html
via IFTTT
Share on Google Plus

About Abhishek Mishra

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें