पढ़े: एक पति और बाप हैवानियत: 10 वर्षो से एक ही घर में कैद में रखा था अपनी पत्नी और बेटी को


राजू सिंह/कौशांबी। भूत-प्रेत की मनगढंत और अन्धविश्वास को को मानने वाला एक सख्स मानवता को शर्मसार को शर्मसार करते हुए अपनी ही पत्नी और बेटी को 10 वर्षो से कैद में रखा हुआ था। कौशांबी जिले के चायल विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बलीपुर टाटा में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। एक व्यक्ति द्वारा अपनी पत्नी और बेटी को 10 वर्षो तक घर के अंदर कैद करके तरह-तरह प्रताड़ित करता था, यही नहीं वह ना तो अपनी पत्नी और बेटी को अच्छे से खाना देता था और ना ही किसी से मिलने। इस घोर प्रताड़ना के कारण माँ और बेटी हालत विक्षिप्त जैसी हो गई है।             बताया जाता है कि सरजू नामक व्यक्ति ने अपनी पत्नि शशि कला व 18 वर्षीय पुत्री कंचन लता को 10 वर्षो से अपने ही घर में कैद करके रखा हुआ था और न ही उन्हें अच्छे से खाना देता था और ना ही किसी अपने से मिलने देता था। वह उन्हें मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित भी करता था। इतनी घोर प्रताड़ना देने के पीछे के कारणो का बहाना वह भूत प्रेत मानता था जिसके कारण वह उन्हें मरता- पीटता था। उसकी इस प्रताड़ना के कारण दोनों माँ बेटी मानसिक तौर पर विछिप्त हो गए है।
पुलिस और पत्रकारों ने मिलकर कराया आजाद

माँ और बेटी के साथ हो रहे अत्याचार की खबर किसी तरह पुलिस तक पहुंची तो सूचना मिलते ही सीओ चायल अपने साथ चरवा थानाध्यक्ष और पत्रकारों की टीम ले कर मौके पर पहुंच कर गुप्त तरीके से स्थिति की जानकारी ली। जब उन्होंने इस मामले की सच्चाई का पता लगा लिया तब पुलिस ने तुरंत कार्यवाही करते हुए दोनों माँ-बेटी को इस दर्द भरी कैद से आजाद कराया।
10 वर्षो में पहली बार खुली हवा में ली साँस

10 वर्षो से पति की कैद स्व मुक्त होते ही मां और बेटी ने खुली हवा में सांस ली। पुलिस की इस कार्यवाही में पत्रकार और जनप्रतिनिधि के अलावा ग्रामीण भी मौजूद थे। जिन्होंने ने भी मां और बेटी को देखा सबके मुंह से आह निकल गई। पति के द्वारा 10 वर्षो तक की गई प्रताड़ना की कहानी माँ और बेटी की हालत खुद ब खुद बयां कर रही थी। पुलिस ने CMO से बात कर एम्बुलेन्स बुलाई और माँ-बेटी को इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। वही अरोपी पति को अपनी गिरफ्त में लेकर पूछताछ शुरू कर दी थी।
Share on Google Plus

About Prachand Janta

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें