मनरेगा जिन्दगी के साथ भी, जिन्दगी के बाद भी, जिले में शांतिधाम के 367 निर्माण कार्य पूर्ण

कटनी (13 अप्रैल)- मनरेगा से जहाँ एक ओर लोगों को रोजगार के अवसर, आजीविका के साधन के साथ-साथ मूलभूत जरूरतों को पूरा किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर अंतिम संस्कार के लिये बेहतर इंतजाम करके ‘‘जिन्दगी के साथ भी, जिन्दगी के बाद भी‘‘ को भी चरितार्थ किया जा रहा है। 
            ग्रामीण क्षेत्र में अंतिम संस्कार की समुचित व्यवस्था न होने से ग्रामीणों को अंतिम क्रिया के दौरान खासतौर से बरसात के मौसम में होने वाली दिक्कतों का समाधान किया है, मनरेगा की शांतिधाम उपयोजना ने। मनरेगा से बन रहे शांतिधाम में शेड के साथ शवदाह के लिये प्लेटफार्म बनाए जा रहे हैं। साथ ही शांतिधाम के चारों ओर सुरक्षा के भी इंतजाम किए जा रहे हैं। इस कार्य से ग्रामीणों को रोजगार भी मिला और अंतिम संस्कार के लिए माकूल इंतजाम भी।
             कटनी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा की शांतिधाम उपयोजना से लगभग 367 शांति-धाम व कब्रिस्तान का निर्माण काम पूरा हो चुका है। वहीं 317 स्वीकृत कार्य निर्माणाधीन है। हर गाँव में शांति-धाम व कब्रिस्तान बनाया जाना सरकार की प्राथमिकता में है। इसके लिए राज्य शासन द्वारा नये निर्देश जारी किये गये हैं। अब प्रत्येक ग्राम में आबादी के हिसाब से कम से कम एक शांति-धाम व कब्रिस्तान बनाया जाना है।
            जनगणना 2011 के अनुसार दो हजार से कम आबादी वाले ग्रामों में एक प्लेटफार्म तथा दो हजार से अधिक आबादी वाले ग्रामों में दो प्लेटफार्म वाले शांति-धाम का निर्माण होगा। एक प्लेटफार्म वाले शांति-धाम की लागत एक लाख 80 हजार तथा दो प्लेटफार्म के शांति-धाम की लागत 2 लाख 45 हजार रूपये निर्धारित की गयी है। पानी की व्यवस्था के लिए हेंडपंप सहित टंकी बनवाने के लिए एक लाख रूपये लागत आयेगी। इसकी व्यवस्था सांसद, विधायक-निधि, जिला एवं जनपद पंचायतों को दिये जाने वाले मूलभूत अनुदान, पंचायत कर एवं स्टाम्प शुल्क से आय तथा जन-सहयोग से की जा सकेगी। शांति-धाम उपयोजना से अंतिम संस्कार के लिये चबूतरा, छाया के लिये शेड के साथ-साथ अंतिम संस्कार स्थल तक आवागमन का रास्ता, पानी का इंतजाम तथा शांति-धाम की सुरक्षा के भी इंतजाम करवाये गये हैं।

            कटनी जिले में मनरेगा योजनांतर्गत ग्रामीण जनों को रोजगार उपलब्ध कराये जाने के साथ साथ हितग्राही मूलक एवं सामुदायिक मूलक कार्यो से ग्रामीणजनों को लाभ मिल रहा है । जहां एक ओर हितग्राहियों को सीधा योजना से लाभ प्राप्त हो रहा है वहीं सामुदायिक कार्यो से ग्रामीणजनों को योजना से लाभ हो रहा है। जिले में कलेक्टर विशेष गढ़पाले के निर्देशन में मनरेगा योजना अंतर्गत कार्य किये जा रहे है इसकी सतत् मॉनीटरिंग एवं निरीक्षण का कार्य जिला पंचायत सी.ई.ओ. डॉ0 के0डी0 त्रिपाठी के मार्गदर्शन में जिला एवं जनपद पंचायत स्तर से हो रहा है।
Share on Google Plus

About Abhishek Mishra

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें