ठेकेदार के आतंक का शिकार हो रहे छोटे दुकानदार, चिलचिलाती धूप में फुटपाथ पर बैठने को हुए मजबूर


रमेश बर्मन/शाहनगर/पन्ना। शाहनगर बाजार बैठकी की अवैध वसूली से फुटपाथ में छोटी दूकान लगाकर किसी तरह अपना जीवन निर्वाह करने वालो पर ठेकेदार की मनमानी गाज बनकर गिर रही है। ठेकेदार के गुर्गो ने इन छोटे दुकानदारों की टपरा/गुमटियों को तोड़कर हटा दिया है जिसके कारण इन दुकानदारों को इतनी भीषण गर्मी में खुले आसमान के नीचे बैठना पड़ रहा है।
मनमानी है वसूली की राशि
जानकारी के मुताबिक शाहनगर में हर शनिवार को हाट बाजार लगता हैं। जिसमे ग्रामपंचायत द्वारा हाट बाजार की वसूली के लिए ठेकेदार नियुक्त करती है। जिसे हाट बाजार में लगने  वाली दुकानों से पंचायत द्वारा निर्धारित की गई राशि वसूलने का आदेश दिया जाता है। परंतु नए ठेकेदार द्वारा वसूली के सारे नियमो को दरकिनार करते हुए निर्धारित की गई राशि से अधिक राशि की वसूली की जा रही है। नाम ना बताने की शर्त में एक दूकानदार ने बताया कि हाट बाजार की उगाही ठेकेदार के गुर्गो द्वारा की जाती है जो 20 रुपये की जगह 50 रुपये वसूलते है। जब दुकानदारों ने इसका विरोध किया तो इन्ही गुर्गो द्वारा दुकान बंद कराने की धमकी दी जाती है। ऐसे तानाशाह ठेकेदार के कारण छोटे दुकानदारों पर रोजी रोटी का संकट आ पड़ा है।
ग्रामपंचायत से मिलता है सपोर्ट
सूत्र बताते है कि ठेकेदार की मनमानी का कारण ग्राम पंचायत के ही किसी व्यक्ति का सहयोग है। जिसके कारण पंचायत ठेकेदार की मनमानी के बाद भी मौंनरूप धारण कर लिया है। ठेकेदार द्वारा दुकानदारों के पहले से रखे टपरा/गुमटियों को जेसीबी मशीन एवं पुलिस बुलबाकर  टपरा फिकवा दूंगा मेरा कोई कुछ नही बिगाड़ सकता जैसे शब्दों का प्रयोग कर आतंकित किया जाता था।
चिलचिलाती धूप में बैठने को मजबूर ग्रामीण

ठेकेदार की मनमानी से छोटे दुकानदारों को चिलचिलाती धूप में बैठना पड़ रहा है। वही अधिकारी और कर्मचारी सहित ग्रामपंचायत के पदाधिकारी शांत रहकर ठेकेदार को मूक सहमति प्रदान कर उसके आतंक को बढ़ावा दे रहे है।
Share on Google Plus

About Prachand Janta

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें