पानी के लिए मची त्राही-त्राहि, प्रशासन बेखबर

राजू सिंह/कौशांबी। भीषण गर्मी के कारण धुप व् गर्मी से लोग बेहाल है। पीने के लिए पानी लाने के लिए भटकना पड़ रहा है। कौशांबी के सिराथू तहसील क्षेत्र के कड़ा में 65 ग्राम सभाओ में ज्यादतर स्थानों पानी की किल्लत बनी हुई है। अटसराय, दारानगर, त्रिलोकपुर, उंचरावा, सैनीकही हैण्डपम्प खराब है तो कही हैण्डपम्प गन्दा पानी दे रहा है चारो तरफ पानी के लिए हाहाकार मचा है। कुछ गांव तो ऐसे है जहां पूरे गांव में सिर्फ एक ही हैण्डपम्प है जिसके कारण पानी भरने वालो की दिनभर लाइन लगी रहती है। 

पानी भरने के लिए हो जाते है झगड़े

पूरे क्षेत्र में जहां पानी की किल्लत है जहाँ पानी के लिए लोग मारपीट पर उतारू हो जाते है। वहीँ मानव तो पानी की  समस्या से निजात दिलाने के लिए तो अधिकारियो व जन प्रतिनिधियों से गुहार लगा लेता है। समस्या से निजात किसी तरह से पा लेता है। वहीँ दूसरी ओर इसी गर्मी व धुप में पशु पक्षी भी बेहाल है व् पानी के लिए इधर उधर घूमते रहते है  जो बेजुबान भी है व अपनी समस्या भी नही बता सकते ऐसे में पशु पक्षी भी हम इंसानों के सहारे होते है क्योंकि जितना पानी की जरूरत इंसानों को है उतनी ही पानी की जरूरत पशु पक्षियों को भी है ए बात अलग है कि इंसान पानी को पीने के अलावा और भी जरूरत के कामो में लाता है लेकिन पशु पक्षियों को तो पीने के लिए ही पानी चाहिए और इसलिए वे हम इंसानों पर निर्भर है। इस समय ज्यादातर गावँ के तालाबो में पानी नही है सारे तालाब सूखे पड़े है जिससे पशु पक्षी पानी के लिए बेहाल है और पानी न मिलने से  प्यास के कारण मौत तक हो जाती है। इस प्रचंड गर्मी में पशु पक्षीयो को प्यास से बचाने के लिए गावँ के तालाबो में पानी भरवाना नितान्त आवश्यक है। जिससे पशु पक्षी की प्यास से मौत न हो बताते चले की अधिकतर तालाबो में पानी नही है  और तालाबो पानी भरवाने के लिए शासन के साथ जनप्रतिनिधि भी ध्यान नही देते अगर गावँ के सभी तालाबो में पानी भर जाए तो हजारों पशु पक्षी प्यास के कारण मौत से बच जाएंगे।

Share on Google Plus

About Prachand Janta

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें