शाहनगर/पन्ना। पन्ना जिले की शाहनगर तहसील में लगने वाले साप्ताहिक बाजार में फैली गंदगी स्वच्छता अभियान की पोल खोल रही है। मैदान में फैली गंदगी को देखकर अंदाजा लगाना मुश्किल ना होगा कि स्वच्छता के लिए आये बजट भ्रष्टाचार की बलि चढ़ रही है। जहां देखो वहां सिर्फ कचरा ही कचरा दिखाई देता है। फिर भी ग्राम पंचायत आँख मूंदकर लोगो को स्वच्छता के नाम पर झुनझुना पकड़ा रही है।
बाजार है पर सुविधाएं नहीं
वर्षो से शाहनगर में साप्ताहिक बाजार लगती चली आ रही है लेकिन आज तक इस बाजार में लगाने वाले छोटे दुकानदारो के लिए आक तक कोई सुविधा मुहैया नहीं कराई गई है। जबकि बाजार बैठकी का पैसा ठेकेदार द्वारा वसूल किया जाता है। उसके बाद भी आज तक इन व्यवसायियों को कोई भी सुविधा मुहैया क्यों नहीं कराया गया है, ये समझ के परे है। जबकि इन्ही व्यवसायियों से पंचायत की आमदनी होती है।
सड़ता रहता है सब्जियों का कचरा
शाहनगर में शनिवार को बाजार लगती है। जहां काफी मात्रा में सब्जियां बिकने आती है। बाजार के बाद सब्जियों का काफी कचरा वही फेंक दिया जाता है। जोकि वही सड़ता रहता है जिसके कारण बाजार से बदबू आती रहती है। 
कहां जाता है सफाई का पैसा
शाहनगर बाजार में फैला कचरा अपने आप में भ्रष्टाचार की कहानी कह रहा है। जबकि इस बाजार बैठकी से पंचायत को लाखों रुपये की आय होती है। उसके बाद भी बाजार की सफाई नहीं होना कई सवाल खड़े कर रहा है। 
Share on Google Plus

About Prachand Janta

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें