जिन्होने पिछले वित्तीय वर्ष में नहीं किया कार्य, उन अधिकारियों और कर्मचारियों पर करें अनुशासनात्मक कार्यवाही - कलेक्टर श्री गढ़पाले

ग्रामोदय से भारत उदय में कोताही बर्दाश्त नहीं
कटनी (12 अप्रैल)- जिन अधिकारियों, कर्मचारियों ने पिछले वित्तीय वर्ष में बेहतर ढंग से कार्य नहीं किया है या काम के नाम पर महज इतिश्री निभाई है। उनके विरुद्व कठोन अनुशासनात्मक कार्यवाही करें। जब अधिकारी, कर्मचारी काम नहीं कर रहे हैं, बार बार निर्देशों की अवहेलना कर रहे हैं। एैसे कर्मचारियों पर अंतिम कार्यवाही करते हुये सेवा से पृथक भी करायें। ग्रामोदय से भारत उदय के दौरान सभी अधिकारी, कर्मचारी मुख्यालय पर मौजूद रहें। बिना सक्षम अनुमति के अवकाश स्वीकृत नहीं किया जाये। यह निर्देश कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने बुधवार की शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की जिलास्तरीय बैठक में दिये।
            अपना विजन स्पष्ट करते हुये कलेक्टर ने कहा कि काम में हीलाहवाली और लेट-लतीफी बरतने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों के विरुद्व कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही, सक्षम अधिकारी करें। काम ना करने वालों को बर्दाश्त करने की आवश्यकता नहीं है। अब अधिकारी ऑफिस टाईमिंग के कॉन्सेप्ट से भी बाहर निकलें व निर्धारित समयावधि में अपने टारगेट को अचीव करें। अपना टाईम मैनेजमेन्ट भी करें। ताकि फोकस के साथ अपने कार्यों को निर्धारित समय सीमा में कर पायें।
ग्रामोदय से भारत उदय में कोताही बर्दाश्त नहीं
            14 अप्रैल से प्रारंभ होकर 31 मई तक चलने वाले ग्रामोदय से भारत उदय अभियान की तैयारियों की समीक्षा भी ग्रामीण विकास विभाग की बैठक में कलेक्टर ने की। उन्होने निर्देशित किया कि इस दौरान आधार सीडिंग, फोटो अपलोडिंग, खाद्य सुरक्षा में पात्रों की मैपिंग और मनरेगा के लंबित भुगतान की कार्यवाही अनिवार्यतः करें। अभियान की प्रत्येक दिन की गतिविधियों को पोर्टल में दर्ज कराया जाये। राजस्व विभाग द्वारा जाति प्रमाण पत्र जारी किये जा रहे है। वहीं कृषि विभाग मृदा परीक्षण कार्ड बना रहा है। सभी सीईओ जनपद यह सुनिश्चित करें कि अभियान के दौरान पात्रों को इनका वितरण हो जाये।
पॉलीथीन का उपयोग ना करने व कैशलैस ट्रान्जेक्शन करने की अभियान में दें जानकारी
            बैठक में ग्रामोदय शिविरों की तैयारियों की समीक्षा के दौरान कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने ग्रामोदय से भारत उदय अभियान व कृषि महोत्सव के दौरान ग्रामीणों को पॉलीथीन और थर्माकोल व प्लास्टिक से बने कटोरी व थाली जैसे डिस्पोजेबल बर्तन का उपयोग ना करने की जानकारी देने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि ग्रामीणों को इससे होने वाले नुकसानों की जानकारी भी दें। कागज व पत्ते से बने दोने व पत्तल का उपयोग करने के प्रति प्रेरित करें। उन्होने सभी सीईओ जनपदों को इस दौरान कैशलैश ट्रान्जेक्शन के प्रति ग्रामीणों को जागरुक करने के लिये गतिविधियां संचालित करने की बात कही।
गुणवत्ता पूर्ण हों पीएमएवाई के कार्य
            कलेक्टर ने ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा में जिले में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत बनाये जा रहे भवनों के निर्माण को गुणवत्ता पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि जारी स्टीमेट के निर्धारित मापदण्डों के अनुसार ही कार्य हो। सरिया, सीमेन्ट, गिट्टी का उपयोग निर्धारित मानक के आधार पर किया जाये। 4 इंच की दीवार नहीं बनाई जाये। गलत जमीन पर निर्माण होने या लेआउट देने की बात सामने आने पर संबंधित उपयंत्री के विरुद्व कार्यवाही करने के निर्देश भी उन्होने दिये।
बारिश के पूर्व पूर्ण हों तालाब व वृक्षारोपण के कार्य
            बैठक में बारिश के पूर्व मनरेगा के तहत बनाये जा रहे तालाबों के निर्माण कार्य पूर्ण कराने के निर्देश कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि हरियाली अभियान के तहत वृक्षारोपण की तैयारियों के कार्य भी बारिश के पूर्व पूर्ण कर लिये जायें। सीईओ और एई, यह सुनिश्चित करें कि पौधारोपण के कार्य पूर्ण हो जायें। जहां पर सीपीटी निर्माण के दौरान मिट्टी निकालकर ऊपर रख दी गई है, उसे वहां से हटाकर दूर करायें।
लोक सेवक अनिवार्य, अटेंडेंस नहीं, तो वेतन नहीं
            बैठक में कलेक्टर श्री गढ़पाले ने दो-टूक रुप से स्पष्ट किया कि, फील्ड के अमले की अटेन्डेंस लोकसेवक एप से ही मान्य होगी और इसी आधार पर वेतन का आहरण किया जायेगा। इसलिये इसकी मॉनीटरिंग सभी सीईओ जनपद व सीईओ जिला पंचायत करें।
किचिन शैड अब तक ना बनवाने वाले सचिवों पर करें कार्यवाही
            एमडीएम की समीक्षा के दौरान अब तक किचिन शैड का निर्माण कार्य ना करने वाले संबंधित सचिवों के विरुद्व बर्खास्तगी की कार्यवाही करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये। उन्होने कहा कि जो ये कार्य इतने लंबे समय से नहीं कर पायें हैं, वे आंगे भी नहीं कर पायेंगे। इसलिये एैसे सचिवों के विरुद्व कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाये।
यह भी दिये निर्देश

  • बैठक में पेयजल परिवहन की जानकारी, निर्धारित प्रपत्र में उपलब्ध कराने के निर्देश सीईओ जनपदों को कलेक्टर ने दिये।
  • मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत अभी से ही क्लस्टर स्तर पर सामूहिक विवाह सम्मेलन कराने के लिये कलेक्टर ने निर्देशित किया।
  • शांतिधाम और सुदूर सड़क के कार्य, जो सीईओ व एई स्तर पर स्वीकृत किये जाने थे, उन्हें शीघ्र ही स्वीकृत करने के लिये भी कलेक्टर ने निर्देशित किया।
  • ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के दौरान ओड़ीएफ हो सकने वाली ग्राम पंचायतों को प्राथमिकता पर अभियान चलाकर ओडीएफ कराने के निर्देश संबंधितों को कलेक्टर ने दिये।
Share on Google Plus

About Abhishek Mishra

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें