14, 15 और 16 जून को जिले की सभी तहसीलों में आयोजित होंगे राजस्व शिविर



अधिक से अधिक पात्रों को दिलायें लाभ-कलेक्टर श्री गढ़पाले
कटनी (27 मई)- राजस्व विभाग से जुड़ी समस्याओं के त्वरित निराकरण के उद्वेश्य से कलेक्टर विशेष गढ़पाले के निर्देश पर जून माह में राजस्व शिविरों का आयोजन होगा। ये शिविर 14, 15 और 16 जून को जिले की सभी तहसीलों में आयोजित होंगे। गौरतलब है कि कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने सभी राजस्व अधिकारियों को इन शिविरों में प्राप्त आवेदनों के त्वरित और प्रभावी निराकरण के निर्देश दिये हैं। साथ ही प्रतिदिन प्राप्त आवेदनों और किये गये निराकरण की कार्यवाही की रिपोर्ट भी भेजने के आदेश दिये गये हैं।
यहां आयोजित होंगे शिविर
14, 15 और 16 जून को कटनी तहसील में 3 स्थानों पर ये शिविर आयोजित होंगे। प्राथमिक शाला छपरवाह, ग्राम पंचायत भवन, हरदुआ (मुड़वारा-2) और ग्राम पंचायत गुबराधरी (पहाड़ी) में ये शिविर लगाये जायेंगे। इन्हें क्रमशः तहसीलदार, अतिरिक्त तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार संचालित करेंगे। रीठी तहसील की देवरीकलां और ढुड़री ग्राम पंचायतों में राजस्व शिविर आयोजित किये जायेंगे। सभी शिविर संबंधित ग्रामों के ग्राम पंचायत भवनों में आयोजित होंगे।
वहीं बड़वारा तहसील की ग्राम पंचायत देवरी में राजस्व शिविर का आयोजन होगा। जिसका संचालन तहसीलदार बड़वारा द्वारा किया जायेगा। विजयराघवगढ़ तहसील अंतर्गत राजस्व शिविर का आयोजन ग्राम पंचायत गुहावल में होगा। इसी प्रकार बरही तहसील के ग्राम पंचायत भवन सिरौंजा गड़रिया में राजस्व शिविर आयोजित होंगे।
बहोरीबंद तहसील की 3 ग्राम पंचायतों में राजस्व शिविर का आयोजन होगा। जिसमें गाम बहोरीबंद की पंचायत बुधनवारा, स्लीमनाबाद की ग्राम पंचायत निमास, बाकल के ग्राम पंचायत चांदनखेड़ा में ये राजस्व शिविर आयोजित होंगे। इन ग्राम पंचायतों के ग्राम पंचायत भवनों में राजस्व शिविरों का आयोजन होगा। वहीं ढीमरखेड़ा तहसील में ग्राम पंचायत पाली और ग्राम पंचायत सैलारपुर में राजस्व शिविर आयोजित होंगे।
शिविरों में इन प्रकरणों का होगा निराकरण
इन राजस्व न्याय शिविरों में अविवादित बटवार, अविवादित नामांतरण एवं फौती नामांतरण प्रकरणों एवं सी.एम.एच.ओ. एवं जन्म मृत्यु रजिस्ट्रार से फौती सूची प्राप्त कर फौती नामांतरण पंजीकृत प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा। तहसील अंतर्गत समस्त पटवारी अपने क्षेत्रांतर्गत खातेदारों के जमीन में यदि वृक्ष, कुंआ, मकान इत्यादि हो तो उसका खसरे में इंद्राज करेंगे। नक्शा तरमीन के प्रकरणों का निपटारा किया जायेगा। न्यायालय आदेशों का राजस्व अभिलेखों में इंद्राज एवं अर्थदण्ड वसूली की कार्यवाही शतप्रतिशत की जायेगी। भू-अर्जन के प्रकरणों में मुआवजे का वितरणध्कब्जा, कार्यवाही संबंधी शिकायत की जानकारी, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास मिशन योजनाध्आबादी भूमि के भू-खंड धारकों को भू-धारक प्रमाण पत्र की स्थिति को जानकारी अंतर्गत भू-अधिकार प्रमाण पत्रों को तैयार किया जायेगा।
इसी प्रकार इन शिविरों के माध्यम से समस्त पटवारी हल्का के अंतर्गत प्रत्येक गॉंव के खतौनी का वाचन शिविर के पूर्व कर प्रकरणों को निराकरण किया जायेगा। कब्जा संबंधी प्रकरणों का निपटारा, सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण, शासकीय परिसंपत्तियों का खसरे में इंद्राज कराना, खसरा बी-1 का वितरण, परिवर्तित भू-भाटक की शतप्रतिशत वसूली, गिरदावरी कार्य एवं फसल कटाई प्रयोग का सत्यापन, डायवर्सन प्रकरणों का निपटारा व पुर्ननिर्धारण, वनाधिकारी अधिनियम 2005 के तहत पट्टों का तैयार किया जाना, आय, मूल निवास एवं जाति प्रमाण पत्रों को तैयार कर प्रदाय किया जायेगा।
जिन भूमियों का अर्जन हो चुका है उन भूमियों के विभागों का नाम राजस्व अभिलेखों में इंद्राज किया जायेगा। कम्प्यूटर में दर्ज प्रकरणों के प्रविष्टियों का सत्यापन, निःशुल्क भू अधिकार एवं ऋणपुस्तिका का वितरण, निर्धारित राजस्व न्याय शिविरों में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जायेगा। नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्रों में पट्टा वितरण, बैंकों द्वारा बंधक की गई संपत्तियों का खसरा में इंद्राज करना, ग्राम उदय से भारत उदय साधिकार अभियान के तहत बी.पी.एल. संबंधी आवेदनों का निराकरण, वास स्थान पट्टे का प्रदाय किया जाएगा।
Share on Google Plus

About Abhishek Mishra

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें