सदमे में लालू: 22 ठिकानो पर पड़ा आयकर का छापा


नई दिल्ली। आयकर विभाग द्वारा लालू प्रसाद यादव और परिवार से संबधित लोगों के 22 ठिकानों पर मारे गए आयकर के छापे से राजद प्रमुख भड़क गए हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए भाजपा पर हमला बोला है और कहा है कि वो किसी से डरने वाले नहीं है।
लालू ने अपने ट्वीट में लिखा है कि भाजपा को नए गठबंधन के साथी मुबारक हों। लालू प्रसाद झुकने और डरने वाला नहीं है। जब तक आखिरी सांस है फासीवादी ताकतों के खिलाफ लड़ता रहूंगा।
अपने अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा है, भाजपा में हिम्मत नही कि लालू की आवाज को दबा सके। लालू की आवाज दबाएंगे तो देशभर मे करोड़ो लालू खड़े हो जाएंगे। मैं गीदड़ भभकी से डरने वाला नही हूं।
अरे पढ़े-लिखे अनपढ़ों, ये तो बताओ कौन से 22 ठिकानों पर छापेमारी हुई। भाजपा समर्थित मीडिया और उसके सहयोगी घटकों (सरकारी तोतों) से लालू नही डरता।
बता दें कि मंगलवार सुबह राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार से जुड़े लोगों के देश के कई शहरों में स्थित 22 ठिकानों पर आयकर का छापा पड़ा है। यह छापा एक हजार करोड़ की बेनामी संपत्ति के मामले में मारा गया है जिसमें लालू यादव का नाम भी जोड़ा जा रहा है।
आयकर विभाग की यह छापेमारी मंगलवार सुबह ही शुरू हो गई। लालू के अलावा एमपी प्रेमचंद्र गुप्‍ता के बेटों के घर पर भी छापेमारी हुई है। सुबह साढ़े आठ बजे से यह छापेमारी जारी है।
राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के परिवार के पास 1000 करोड़ की बेनामी सपंत्ति होने का आरोप है। बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी पिछले कई दिनों से लालू प्रसाद और उनके परिवार वालों पर एक हजार करोड़ से ज्यादा की बेनामी संपत्ति हासिल करने को लेकर खुलासे कर रहे हैं। हालांकि पिछले दिनों बिहार के मुख्‍यमंत्री ने नीतीश कुमार ने इस मामले में कोई टिप्‍पणी करने से इनकार कर दिया था।
बता दें कि आयकर विभाग ने कई शहरों में बेनामी संपत्ति के मालिकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। इन लोगों ने अवैध तरीके से हासिल कमाई किसी और के नाम पर रखी है। सूत्रों के मुताबिक विभाग ऐसे 300 से अधिक मामलों में बेनामी लेनदेन (रोकथाम) कानून के तहत कार्रवाई कर सकता है।
अवैध संपत्ति मामले में घिरे लालू यादव सहित इसमें संलिप्त प्रेमचंद गुप्ता के बेटों के घरों पर भी छापेमारी चल रही है। आयकर विभाग की छापेमारी के बाद बिहार में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है।
इन्होने कहा-
सुमो ने कहा- अब नीतीश ये ना कहें कि बदले की भावना से हुई छापेमारी
सुशील मोदी ने कहा कि मैंने प्रेस कांफ्रेंस करके इस मामले को सार्वजनिक किया था, मैंने कोई दस्तावेज नहीं सौंपे थे। इसमें प्रेमचंद गुप्ता, लालू समेत आधे दर्जन नेताओं का नाम मैंने लिया था। मैंने अपील की थी, जिसके बाद यह छापेमारी की गई है।
सुशील मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार ने कल ही कहा था कि लालू परिवार की अवैध संपत्तियों के आरोपों में अगर सच्चाई हो तो केंद्र सरकार इसकी जांच करा ले, तो केंद्र सरकार ने इस पर कार्रवाई कर दी है और अब जल्द ही सच सामने आ जाएगा। मुझे उम्मीद है कि नीतीश कुमार ये नहीं कहेंगे कि ये छापेमारी बदले की भावना से की गई है। सुशील मोदी ने कहा कि मुझे नहीं पता है कि इनकम टैक्स किस आधार पर यह छापेमारी कर रही है।
कांग्रेस ने कहा- पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर लालू पर कार्रवाई
कांग्रेस नेता प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि अभी कार्रवाई चल रही है, चलने दीजिए। हम सब एक साथ हैं, जो होगा आगे देखा जाएगा। कांग्रेस नेता और मंत्री अवधेश सिंह भी लालू के बचाव में उतरे हैं। उन्होंने लालू का बचाव करते हुए कहा कि राजनीति से प्रेरित होकर यह कार्रवाई की गई है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा-नीतीश के कहने पर ही हुई कार्रवाई
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा है कि यह कार्रवाई मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कहने पर ही हुई है। बिहार की गरीब जनता की खून-पसीने की कमाई को हड़पने वालों के साथ यही हश्र होना चाहिए।
राजद ने कहा-बीजेपी लालू को समाप्त करना चाहती है
राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि बीजेपी पूरी योजना बनाकर राजद अध्यक्ष लालू यादव की राजनैतिक हस्ती को खत्म करना चाहती है। इसके लिए पूरी कहानी गढ़ी गई है। उनका यह प्रयास सफल नहीं होगा। हम सब साथ हैं और साथ ही रहेंगे। हम सब डटकर मुकाबला करेंगे।
भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा-अब नीतीश भी करें कार्रवाई
वहीं भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी राजद अध्यक्ष लालू यादव और उनके बेटों पर कार्रवाई करनी चाहिए।
बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय ने कहा
लालू कुनबे ने जो किया उसका जवाब देश की जनता मांग रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सुझाव पर आयकर विभाग ने यह कार्रवाई की है। पूर्णकालिक राजनीति करने वाले लालू महज 25 वर्षों में अरबपति कैसे बन गए? इस कार्रवाई के बाद जनता के सामने दूध का दूध और पानी का पानी हो जायगा।
दानिश रिजवान
हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि लालू यादव के 22 ठिकानों पर छापेमारी हो रही क्या अभी भी सीएम नीतीश कुमार लालू यादव और उनके परिवार को इमानदारी का सर्टिफिकेट देंगे?
इस कार्रवाई की सूचना मिलने के बाद राजद के नेता एक-एक कर लालू आवास पहुंच रहे हैं, जिनमें कांति सिंह, अजित झा, रघुवंश प्रसाद सिंह, शिवचंद्र राम सहित कई नेता शामिल हैं।
जदयू ने फिलहाल कुछ भी कहने से किया इंकार
वहीं जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने साफ कहा कि आयकर विभाग की छापेमारी के बारे में अभी हमे कुछ पता नहीं है इसीलिए अभी कुछ कह नहीं सकते। वहीं जदयू नेता श्याम रजक ने कहा कि कानून अपना काम कर रहा है। इस मामले में ज्यादा बोलना ठीक नहीं।
Share on Google Plus

About prachand janta

www.katninews.com is first Hindi News Portal of Katni District. You can get latest Hindi News updates.

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें