सीएससी सेंटर बन रहा ग्रामीणों के लिए वरदान

अमित तिवारी/ कटनी। 80  वर्षीय वृद्धा दुबकी बाई का चेहरा उस वक्त खिल उठा जब प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि उसके कहते में आ गई। इसे वह सीएससी सेंटर जे माध्यम से रकम का आहरण भी कर लिया।
ग्राम पंचायत कुंभरवारा में सीएससी सेंटर आने के पहले और बैंक ना होने के कारण 
रुपए निकाल कर उसका भुगतान करने की भारी समस्याओ का सामना करना पड़ रहा है। बैंकिंग के लिए 15 किलोमीटर दूर जाना पड़ता था।
वृद्धा के घर जाकर किया भुगतान
ग्रामीणों की इस समस्या को देखते हुए सी.एस.सी जिला प्रबंधक ने नागरिक सुविधा केंद्र संचालक अलोक दुबे को उक्त वृद्धा का भुगतान उसके घर में जाकर डीजीपे आधार पेमेंट सिस्टम से करने एवं भुगतान की रशीद पदान करने के लिए निर्देशित किया गया। विदित है की केंद्र सरकार के डिजिटल इण्डिया प्रोजेक्ट के अंतर्गत सम्पूर्ण देश में नागरिक सुविधा केंद सी.एस.सी की स्थापना की जा रही है ,उसी कार्यक्रम को बेहतर तरीके से कर प्रत्येक ग्राम पंचायत में जमीनी में सुविधा केंद्र स्थापित हो एवं समस्त प्रकार की रकम का भुगतान डीजी पे आधार पेमेंट सिस्टम से हो के निर्देश माननीय कलेक्टर ने दिए है साथ ही साथ प्रत्येक ग्राम पंचायत में संचालक को सी.एस.सी की समस्त सेवाएं जो की संचालित हो रही है पंचायत स्तर पर प्रदान करने हेतु प्रेरित करना है जिसमे शिक्षा,बैंकिंग, स्वस्थ, स्किल्स,आधार,पैन,बीमा इत्यादि है। केंद्र सरकार की परियोजना को सत प्रतिशत ग्राम पंचायत में स्थापित करने के निर्देश दिए गए है और ऐसे लोगो को चयनित करने के लिए कहा गया है जो वास्तविक तौर में ग्राम पंचायत में कार्य करे एवं हितग्राहियो को लाभ प्रदान करे।

                                 -श्री विशेष गढ़पाले, कलेक्टर 

अभीतक जिले में करीब 100 ग्राम पंचायतो में डीजी पे-पेमेंट सिस्टम प्रारम्भ किया जा चुका है साथ ही करीब 220 ग्राम पंचायतो में नागरिक सुविधा केंद्र की स्थापना की जा चुकी है ,निर्देशानुसार उचित व्यक्ति का चयन हेतु आवेदन आमंत्रित किये गए है जिसकी समस्त प्रकिया इस माह जिला ई गवर्नेंस जिला प्रबंधक सौरव नामदेव जी के साथ मिलकर संपन्न कर ली जाएगी एवं हमारा जिला प्रदेश में अव्वल है जहा ग्रामपंचायत भवन में ही नागरिक सुविधा केंद्र के लिए जगह प्रदान की जा रही है।
                -उपेंद्रत्रिपाठी ,जिला प्रबंधक सीएससी कटनी

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.